हैशटैग के बारे मै तो आप सभी को पता ही होगा और आप सभी यूज़ करते ही होंगे पर कभी आपने सोचा है इसकी शुरुआत कैसे हुई और यह कैसे काम करता है आज हम इसी टॉपिक पर बात करेंगे !

आज के समय मै हैशटैग हर जगह यूज़ किया जाने लगा है चाहे यूट्यूब हो या इंस्टाग्राम लेकिन आखिर हम हैश शाइन को ही क्यों यूज़ मै लेते है हैश को हम पाउंड भी कहते है और हैश का बहोत महत्व है कम्प्यूटिंग की दुनिया मै क्योंकि यह कोडिंग को बहोत आसानी से समझ लेता है !

इसका जो ओरिजिनल आईडिया निकलकर आया वो था 2007 मै  जब ट्विटर पर एक यूजर ने सोचा की एक ऐसा शब्द जिससे हम एक वर्ड से ही जान सके की दूसरे लोग उस चीज के बारे मै क्या सोचते है चलिए एक example ले लेते है मान लीजिये आज किसी स्टार का बर्थडे है और हम हैशटैग लगा के उस बन्दे को करते है विश और दूसरे लोगो को देखना हो की लोगो ने क्या ट्वीट किये है बर्थडे से रिलेटेड तो उस हैशटैग के जरिये same टॉपिक पर बहोत से ट्वीट आसानी से देख सकते है !

इसकी शुरुआत हुई ट्विटर से उसके बाद 2011 मै यह आ गया इंस्टाग्राम मै और उसके बाद 2013 मै यह आ गया फेसबुक पर और फाइनली 2016 मै आ गया यह यूट्यूब पर जिसमे आप वीडियो के टाइटल मै डिस्क्रिप्शन मै यूज़ कर सकते है हैशटैग को इसके अलावा बड़े से बड़े ब्रांड भी यूज़ करने लगे है हैशटैग का इसके अलावा लाइक और टिक टोक जैसे आप मै भी हैशटैग को बहोत ज्यादा यूज़ मै लिया जाता है और ऑनलाइन के अलावा ऑफलाइन मै भी हैशटैग का उपयोग किया जाता है जैसे मार्किट मै ताकि लोगो को वो थोड़ा अट्रेक्टिव लगे फिलहाल हैशटैग के बारे मै सिर्फ इतना ही मिलते है अगले आर्टिक्ल मै !