वायरलेस चार्ज़िंग टेक्नोलॉजी जो आज कल लगभग हर मोबाइल मै देखने को मिल जाती पर कभी आपने सोचा है की इसकी शुरुआत कैसे हुई इसे किसने बनाया और यह कैसे काम करता है आज हम इसी के बारे मै बात करेंगे !

अगर आप यह सोचते है की इसी शुरुआत सैमसंग से हुई है तो आप बहोत गलत है करीब करीब 100 साल पहले एक साइंटिस्ट थे न्यूकुला टेशला और 1902 मै उन्होंने यह बताया की वायरलेस चार्ज़िंग पॉसिबल है दो इलेक्ट्रिक डिवाइसेस के बिच मै लेकिन बजट की कमी होनी की वजह से यह सिर्फ आईडिया ही रहे गया लेकिन इसके बाद भी बहोत से साइंटिस्ट आये और रिसर्च चलती रही है !

और अगर आपको यह लगता है की सबसे पहले यह टेक्नोलॉजी सैमसंग मै आयी है तो अब भी आप गलत है इससे करीब दस साल पहले यह टेक्नोलॉजी Palm एक मोबाइल बनाने वाली कंपनी थी जो अब नहीं है इस कंपनी ने यह टेक्नोलॉजी यूज़ की और ऐसे मोबाईल बनाये जो वायरलेस चार्ज़िंग को स्पोर्ट करते थे !

अब बात करते है की यह काम कैसे करते है इसके दो तरीके होते है एक है कंडकशन और दूसरा है इंडक्शन कंडकशन मै क्या होता है की एक पलेट होती है जो की एलेक्ट्रिकल कंडक्टिव होती है और फिर आपको अपने फ़ोन को एक बैकप्लेट या फिर एक स्पेशल कवर चढ़ाना पड़ता है जिसे अगर चार्ज़िंग पलेट पर रखते है तो वो उसमे इलेक्ट्रिक्ली चार्ज़िंग ट्रांसफर करती है यह आईडिया इतना अच्छा नहीं है लेकिन उस समय मै यह भी पॉपुलर हो गया !

अब बात आती है इंडक्शन की इंडकशन मै होता है ची और PLM इसमें क्या है अगर आपका फ़ोन PLM सपोर्ट है तो वो PLM चार्ज़िंग को ही सपोर्ट करेगा और अगर आपका चार्जर PLM सपोर्ट करता है तो वो PLM फ़ोन से ही कनेक्ट होगा !

वायरलेस चार्ज़िंग मै क्या होता है की उसमे लगा होता है कॉइन और इसके साथ ही मोबाईल मै भी कॉइन लगे हुए होते है कुछ फ़ोन मै बैटरी के ऊपर कॉइन लगे हुए होते है कुछ के लिए स्पेसिली कवर खरीदने पड़ते है जिससे की वो चार्ज़िंग को ट्रांसफर करता है !

इसके अलावा कुछ स्टीकर भी आते है जो की फ़ोन के पीछे लगाने से वायरलेस सपोर्ट करते है मगर वो इतने काम के नहीं होते है !

और अगर फ़ास्ट चार्ज़िंग की बात तो इसमें सैमसंग सबसे आगे पाया गया है ! इसके अलावा हाल ही मै एप्पल ने अपने न्यू फ़ोन iphon X मै वायरलेस चार्ज़िंग दिया है मगर उसके लिए आपको अलग से चार्ज़र buy करना होगा !

फिलहाल वायरलेस चार्ज़िंग के बारे मै इतना ही उम्मीद है आपको यह आर्टिक्ल पसंद आया होगा !