अगर आप हॉलीवुड मूवीज देखते है तो ऐसा तो हो ही नहीं सकता की आप मार्वल स्टूडियो के बारे मै ना जानते हो इस स्टूडियो द्वारा प्रकाशित सुपरहीरो लोगो को बहोत पसंद आते है जैसे की स्पाइडर मैन, हल्क, आयरन मैन, ब्लैक पैंथर कैप्टेन अमेरिका आदि !
इसके अलावा इसकी कॉमिक्स भी खूब पसंद की जाती है मगर हम भारत की बात करें तो यहां पर कॉमिक्स इतनी ज्यादा पसंद नहीं की जाती !
तो चलिए शुरू से जानते है मार्वल के बारे मै !

तो बात शुरू होती है 1939 से जब मार्टिन गुडमैन नाम के आदमी ने कॉमिक्स के बढ़ते प्रचलन को देखकर Timely magazine नाम की कंपनी की शुरुआत की !

और 1939 अक्टूबर मै पहेली कॉमिक प्रकाशित की जिसमे हमें ह्यूमन टोर्च और सब मरिनेर नाम की क्रेक्टर देखने को मिले !

और यह खूब लोकप्रिय हुई और इसके 9 लाख राइट्स बाइक और इसके बाद 1941 मै पहेली बार कैप्टेन अमेरिका कॉमिक सामने आई और 1950 तक काफी लोकप्रियता हासिल कर ली ! और इसी बिच इस कंपनी मै स्टेन ली ने भी काम करना शुरू कर दिया और बहोत से सुपरहीरो बनाये !

और फिर नवंबर 1951 मै इसका नाम बदलकर एटलस कॉमिक्स कर दिया !

और फिर इस कंपनी ने बहोत सी कॉमिक्स निकाली जैसे horror, funny ,crime, humor पर यह ज़्याफ़ा शफल नहीं रही फिर DC कॉमिक्स ने फिर से suparheros को वापस ले आयी !

फिर सुपरहीरो को ऐसे बनाया गया जिससे की वो बच्चो के साथ साथ बड़ो को भी अच्छे लगने लगे !
इसके बाद इस कंपनी ने बहोत से सुपर हीरो बनाये जैसे आयरन मैन, कैप्टेन अमेरिका, ब्लैक पैंथर ,डॉक्टर स्ट्रेंज, X मैन ,हल्क, थोर , आदि !

और आप मार्वल कंपनी की शफलता का अंदाजा इसी से लगा सकते है की 1968 तक कंपनी 50 मिलियन कॉपी बेचने मै शफल रही !

और फिर इसे आगे जाकर परफेक्ट फ़िल्म एंड केमिकल कॉपपोरशन नाम की कंपनी ने खरीद लिया और इसका नाम मार्वल कॉमिक्स ग्रुप रख दिया !

और इसी तरह कंपनी को बहोत बार बेचा और ख़रीदा गया जिस वज़ह से 1996 आते आते कंपनी बहोत निचे चली गयी !

और 1997 मै toy buz नाम की कंपनी ने इसे खरीद लिया और अपनी सोच भुझ से इसे बचा लिया !
और 31 अगस्त 2009 को डिज्नी कंपनी ने इससे हाथ मिला लिया !

तो यही थी दोस्तों मार्वल की कहानी उम्मीद है आपको पसंद आयी होगी !