Hindi Motivational Quotes and Thoughts | हिन्दी
लोग ख़ुद तो अपनी लाइफ़ में कुछ नहीं कर
पाते और सलाह देने चले आते है ये बोलने की
तु ये नहीं कर सकता ये सब बोलके उम्मीद कम
करते हैं ऐसा काम कभी मत करो किसी की उम्मीद
मत तोड़ो क्या पता उस इंसान के पास उम्मीद के
अलावा कुछ ना हो.बात अच्छी लगी होगी तो
एक क़दम सफलता की ओर पेज ज़रूर लाइक
करें मैं इस पेज के ज़रिए आपके सही और सच्ची
बातें बताऊँगा जिसे अपना कर आप अपने
सपने पूरे कर पाएँगे

'सक्सेस चाहिए तो इससे बच के रहो
मान लो आपका दिमाग़ एक कम्पनी है और आपकी कम्पनी में 2 लोग
काम करते हैं पहला विजय दूसरा पराजय.दोनो ही आपकी बात मानते है
अगर आप विजय को बोलो की इस काम को करना है तो वो आपको
हज़ार तरीके बताएगा किसी काम को पूरा करने के और अगर
पराजय को कोई काम दो तो वो आपके सामने 1000 वजह रख
देगा की आप उस काम को क्यूँ नहीं कर सकते.दोस्तों जो दुनिया
में सक्सेस हुए हैं वो कोई दूसरी दुनिया से नहीं आए.बस आपको
हमेशा ये देखना होगा जो करना चाहते हो उसको किस तरह
करना चाहिए.ये मत सोचो की नहीं कर पाउँगा क्यूँकि आपके
दिमाग़ को बस एक हिंट दो वो अपने काम पे लग जाएगा.
अगर दिमाग़ को ये बोलोगे मैं ये कर सकता है तो 1000 वजह
' बता देगा की आप क्यूँ कर सकते हो और बोलोगे नहीं कर
सकता तो वो 1000 कारण बता देगा की क्यूँ नहीं कर सकते.

सिर्फ पढ़ाई में अच्छे नम्बर लाने से
कोई सक्सेस नहीं हो सकता.सही
मायने में सक्सेस वही होगा जिसे ये
पता हो की मुझे अपनी लाइफ़ में
क्या करना है और क्या नहीं करना

क्या आप हर समय अपनी क़िस्मत ख़राब मानते हैं ?
मेरी क़िस्मत बहुत बुरी है इसलिए मैं कुछ नहीं कर पाता
मान लो एक कम्पनी में 30 लोग काम कर रहे हैं. उसमें
सभी को प्रमोशन चाहिए भले कोई काम ठीक से करे या
ना करे. अब ऐसा करते है एक बॉक्स में सबका नाम लिख
कर डाल देते है और एक-एक करके पर्ची बाहर ।
निकालते है जिसका नाम पहले आया वो सबसे बड़े पद
पर रहेगा और जिसका नाम लास्ट में आएगा वो सबसे छोटे
पद पर रहेगा. अब बताओ आप उस कम्पनी का क्या हाल
होगा ? ऐसी कम्पनी को बंद होने से कोई नहीं बचा
सकता. चाहे आप किसी भी फ़ील्ड में हैं प्रमोशन उसी
को मिलेगा जो अपने काम को अच्छे से करता है. आपसे
__ऊपर जो बैठे हैं वो अपनी मेहनत की वजह से वहाँ बैठे
है क़िस्मत की वजह से नहीं.

किसी से हद से ज़्यादा
उम्मीद लगाओगे एक
दिन उस उम्मीद के साथ
ख़ुद भी टूट जाओगे

करने दो जो फ़ालतू बातें करते
क्यूकिं ख़ाली बर्तन ही
ज़्यादा आवाज़ करते हैं

जिन पौधो की परवरिश हमेशा छांव
में होती है वह अक्सर कमज़ोर होते है
। और जिन पौधों की परवरिश धूप में
होती है वो हर मौसम को झेल लेते है

जो आदमी शक्ति ना होते हुए
भी मन से हार नहीं मानता
है, उसको दुनिया की कोई
भी ताक़त हरा नहीं सकती

ये ना पूछना जिंदगी ख़ुशी
कब देती हैं क्यूकिं शिकायतें
___तो उन्हें भी है जिन्हें जिंदगी
सब कुछ देती है

जीतने का मज़ा तब
आता है जब सारे
आपके हारने का
इंतज़ार कर रहे हों

दो तरह के लोग बहुत परेशान
रहते हैं एक वे जो ना नहीं
कह सकते और दूसरे
वे जो ना नहीं सुन सकते

सफलता जिस ताले में बंद
- रहती है वह दो चाबियों से
खुलता है एक कठिन परिश्रम
दूसरा सच्चे संकल्प से

क़िस्मत को बेकार बोलने वालों
कभी उनके पास बैठकर
बात करना जिन्हें 2 वक़्त
की रोटी नसीब नहीं होती

1.कभी भी ये मत सोचिए कि
आप कुछ भी नहीं हैं
2.कभी भी ऐसा मत सोचिए कि
आप ही सब कुछ हैं
3.पर हमेशा ये सोचिए कि आप
कुछ तो है जो सब कुछ कर सकते हैं।

भाग्यशाली वे नहीं होते है
जिन्हें सब कुछ अच्छा
मिलता है बल्कि भाग्यशाली
वे होते है जिन्हें जो मिलता
है उसे वे अच्छा बना लेते हैं

ये 5 बाते जीवन भर याद रखना
1 ) जो होता है अच्छे के लिए होता है भले अभी
बुरा लग रहा है लेकिन आगे चल के पता चल
जाएगा की वो भी अच्छे के लिए हुआ था
2 ) कई बार अपनों की ख़ुशी के लिए खुद की
खुशी छोड़नी पड़े तो ज़्यादा उदास मत हो
3 ) अगर लाइफ़ में कोई कमी है कुछ परेशानी है
तो उसे ठीक करने की सोचो . उसके बारे में सोच
होने से कोई मतलब नहीं है ।
4 ) सच को तुरंत स्वीकार कर लो . क्यूकिं किसी झूठ
को सच मानने से परेशानी बढ़ती है कम नहीं होती
5 ) अगर लाइफ़ में कुछ परफ़ेक्ट नहीं हैं तो क्या
हआ हिम्मत करके ख़ुद को परफ़ेक्ट बना लो 


क्या आपको पता है ? दिमाग़ कैसे काम करता है ?
पढ़ा हुआ लम्बे समय तक याद कैसे रखें ?
जब आप किसी विचार को काग़ज़ में लिखते हैं , तो
आपका पूरा ध्यान अपने आप उस विचार पर केंद्रित
हो जाता है . ऐसा इसलिए होता है क्यूकिं आपका
दिमाग़ एक साथ दो काम नहीं कर सकता है . एक
ही समय में आपका दिमाग़ एक विचार सोचे और
दूसरा विचार लिखे , यह नहीं हो सकता . और जब
आप काजग पर लिख रहे होते हैं तो अपने दिमाग
पर लिख ' रहे होते हैं . बहुत सारी रीसर्च से साबित
हो चुका है कि काग़ज़ पर लिख कर याद की हुई
चीज़ लम्बे समय तक याद रहती है .


किसी रिलेशन को इन 2 तरीकों से ठीक
किया जा सकता है
1 ) सामने वाले की बात को समझो वो बोलना
क्या चाहता है ख़ुद को उसकी जगह में रख
कर देखो उसके बाद फैसला करो
2 ) हर टाइम आप सामने वाले को ग़लत
मान कर खुद को सही मान लेते हो . बिना
उसकी सिचुएशन को समझे . आप ख़ुद जो
भी करो वो सब सही है लेकिन सामने वाला
करता है तो आप उसेग़लत मान लेते हो . 


दुनिया में 2 तरह के लोग होते हैं !
पहले वो लोग होते हैं जो छोटी छोटी
परेशानी हो बड़ा बना कर दिन भर रोते रहते हैं
अपने आपको दुखियारा दिखाने में लगे रहते हैं ।
2 ) दूसरे वो लोग रहते हैं जो लाइफ़ में बड़ी
से बड़ी परेशानी होने के बाद भी ख़ुश रहते है
फैसला आपको करना है की आप कैसे रहना
चाहते हो . सुख के बाद दुःख है और दुख के
बाद सुख है ये सबके साथ चलता रहेगा
इसलिए हर हाल में ख़ुश रहना सीखो 

अपने सपने के लिए जब भी गोल सेट
करो 2 चीज़ों का ध्यान रखना
1 ) मैं अभी अपने काम को कितना
टाइम दे रहा हूँ ?
2 ) मैं बिना थके अपने काम को कितना
टाइम और दे सकता हूँ ?
इससे आप तेज़ी से अपने गोल को
अचीव करते जाओगे 


- हमारे पास हमारी दिन भर की योजना
होनी चाहिए . .
* क्यूकि आपके सामने स्पष्ट काम होंगे
तो उसे अच्छे से कर पाओगे ।
+ इससे हम बार बार किसी भी काम

_ को दोहराने से बच जाएंगे
जब जो मन आया उसी समय उसे
करने लग गए इस स्थिति में एक भी
काम ढंग से नहीं होता 


जब आपको अपने काम में कुछ नया करने का आइडिया
आए तो इन 3 बातों से खुद को बचा कर रखना .
1 ) ये आइडिया काम नहीं करेगा ।
2 ) ये बहुत बकवास आइडिया है ।
3 ) इसमें मेहनत ज़्यादा लगेगी ।
क्या पता जो आइडिया आपको बकवास या बेकार
लग रहा है वही आपको अपने सपनों तक ले जाए 


पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूँ ! इसका जवाब !
एक बार ज़रूर पढ़ें
आपके सामने एक पहलवान खड़ा हो और कोई आपको बोले
की आप उससेजा कर बिना मतलब लड़ाई
करो तो क्या आप
उससे लड़ोगे ? कभी नहीं लेकिन अगर वो पहलवान आपकी
माँ को मारना चाहता हो तब आप क्या करोगे ? इसका जवाब
आपको पता है आप अपनी माँ को बचाने के लिए जान
लगा दोगे . आपके पास एक वजह थी की मुझे अपनी माँ को
' बचाना है इसलिए आप उससे लड़े ! क्या आपके पास
कोई वजह है पढ़ाई करने की ? अगर कोई वजह ही नहीं है
तो कैसे मन लगेगा ? किसी और के बोलने से पढ़ सकोगे
कभी ? बिना मतलब पहलवान से लड़ोगे ? नहीं ना ? तो सबसे
पहले ये पता करो की आपको पढ़ाई करनी क्यूँ है क्यूकिं जब
तक आपके पास कोई बड़ी वजह नहीं होगी आपका पढ़ाई
में मन नहीं लगेगा !


अपने आपसे ये बात हर दिन बोलें . जिसको
जो करना है करे जिसको जो सोचना है
सोचे मैं इस दुनिया में आया हूँ तो कुछ
| ना कुछ अच्छा और बड़ा अचिव करके
ही जाऊँगा मुझे दुनिया की कोई परेशानी नहीं
रोक सकती . मैं अपने सपने पूरे करके ही रहूँगा